प्रॉपर्टी डीलर (Property Dealer) कैसे बने

वर्तमान समय बहुत से नवयुवक ऐसे हैं, जो अच्छी पढ़ाई करने के बाद भी बेरोजगार घूम रहें हैं, जिनमे से बहुत से युवक इधर-उधर नौकरी की तलाश से परेशान होकर स्वयं का व्यवसाय करने का निर्णय करते हैं और फिर अपनी कड़ी मेहनत से अपने व्यवसाय को आगे तक ले जाकर अच्छी रकम इकठ्ठा कर लेते हैं | वहीं स्वयं के द्वारा किये गए व्यवसायों में से एक प्रॉपर्टी डीलर का भी व्यवसाय होता है, जिसकी लोग स्वयं ही शुरुआत करके तरक्की  की ऊंचाई तक पहुंच सकते है | इसलिए प्रॉपर्टी डीलर  बनकर कमाई करने का यह बेहतरीन रास्ता होता है | यदि आप भी प्रॉपटी डीलर बनना चाहते है, तो यहाँ पर आपको प्रॉपर्टी डीलर (Property Dealer) कैसे बने, कोर्स, रजिस्ट्रेशन, कमाई करने की पूरी जानकारी दी जा रही है |

ये भी पढ़े: आर्थिक मंदी (ECONOMIC RECESSION) क्या है

प्रॉपर्टी डीलर क्या होता है?

एक प्रॉपर्टी डीलर  प्रमुख रूप से  मकान, दुकान, जमीन की  की बिक्री करने अथवा किराए पर उठाने में एक mediator  की तरह काम करता  है  या फिर आप यह कह सकते है कि, एक प्रॉपर्टी डीलर  किसी भी जमीन  को खरीदवाने और बेचने में दोनों पार्टियों की सहायता करता है  | इसके बाद एक प्रॉपर्टी डीलर ही दोनों पार्टियों के बीच डील फाइनल करने का काम करता है, जिससे उसे भी कमीशन के तौर पर मुनाफा प्राप्त होता है | प्रॉपर्टी डीलर के मुनाफे की कोई सीमा नहीं होती हैं उसे जमीन की रकम के मुताबिक़ रकम दी जाती है |

प्रॉपर्टी डीलर कैसे बने? 

प्रॉपर्टी डीलर  बनने के लिए आपके पास इस कारोबार का तजुर्बा होना जरूरी होता है | वहीं इस काम के बारे पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए आप  किसी निजी संस्था मे जाकर कोर्स कर सकते है | आप इस क्षेत्र मे 6 महीने से 1 साल तक का अनुभव प्राप्त करके एक अच्छा प्रापर्टी डीलर बनकर कार्य के क्षेत्र में प्रगति कर सकते है |

प्रॉपर्टी डीलर कोर्स

अपना यह व्यवसाय शुरू करने के लिए आप निजी संस्थान से सहायता ले सकते है क्योंकि, कुछ निजी संस्था ऐसे कोर्स कराती हैं, लेकिन यह जरूरी नहीं है कि, आप केवल संस्था के ही आधार पर कारोबार करना सीख जाएंगे इसके लिए आपको  इस  कारोबार का   अनुभव  भी होना आवश्यक होता है | आप अपने कारोबार के बारे में  जानकारी प्राप्त कर लें कि, आप प्रॉपर्टी किस माध्यम से ढूंढ सकते हैं , आपको ग्राहक कैसे मिल सकते हैं, कौन से क़ानूनी दस्तावेज जरुरी है, प्रैक्टिकल वर्क कैसे करें, फ्लैट, जमीन इत्यादि से सम्बंधित Mathematical कैलकुलेशन कैसे होती है |  यदि आपको  इन सभी के विषय में अच्छे से जानकारी होगी, तो आप एक अच्छे प्रॉपर्टी डीलर बन सकते है |

ये भी पढ़े:  एसएससी CHSL परीक्षा तैयारी कैसे करे?

ये भी पढ़े: सॉलिसिटर जनरल ऑफ इंडिया क्या होता है?

प्रॉपर्टी पर ऐसे रखें नजर 

एक अच्छा प्रापर्टी डीलर बनने के लिए आप  उस क्षेत्र की  जमीन की पूरी जानकारी रखें जो आपको खरीदवानी या बिकवानी है, क्योंकि जब तक आपको उसके बारे में पूरी जानकारी नहीं होगी, तब आप किसी भी ग्राहक को अपने काम की तरफ आकर्षित नहीं कर पाएंगे |   इसलिए उस क्षेत्र में घूमकर कौन सी प्रॉपर्टी  बिकनी है और कौन सी खरीदी  जाएगी, इसकी  एक लिस्ट बनाकर तैयार कर लें |

ग्राहकों के विषय में जानकारी रखे 

आप इस व्यवसाय को करने के लिए ग्राहकों के विषय में जानकारी रखने के लिए एक ऑफिस  खोल लें, जहाँ पर सभी  ग्राहक आपसे आसानी से संपर्क कर सके | इसके साथ ही आप अखबार में अपने कारोबार का  विज्ञापन देकर उसमें अपना पता और मोबाइल नंबर डलवा सकते है ताकि ग्राहक आपसे आसानी से सपंर्क करके जानकारी प्राप्त कर सके |

ये भी पढ़े: फोटोग्राफर (PHOTOGRAPHER) कैसे बने

ये भी पढ़े: आईएएस (IAS) टॉपर कैसे बनें

प्रॉपर्टी डीलर के लिए रजिस्ट्रेशन 

  • अभी भारत में कुछ समय पहले प्रॉपर्टी डीलर बनने के लिए व्यक्ति को किसी प्रकार का रजिस्ट्रेशन नहीं करवाना पड़ता था, लेकिन अब हर कारोबार में धोखाबजी होने लगी है, जिसे देखते हुए सरकार ने इस क्षेत्र में भी प्रॉपर्टी डीलर बनने के लिए रेरा के पास रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य कर दिया है | अब जो व्यक्ति प्रॉपर्टी डीलर बनना चाहता है, उसे पहले रेरा के पास रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी करनी होगी |
  • आप अपनी रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी करने के लिए  रेरा ऑफिस  में जाकर आवेदन पत्र को प्राप्त कर सकते है, इसके लिए आपको  मांगी गयी सभी जानकारी देना होगा | इसके अलावा यदि आप अपना रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन करना चाहते है, तो  आप इसके लिए सबसे पहले विभाग की वेबसाइट पर जाकर  प्रॉपर्टी डीलर रजिस्ट्रेशन के विकल्प पर जाएँ |
  • इसके बाद रजिस्ट्रेशन के विकल्प पर क्लिक कर दें |
  • फिर आपके सामने एक आवेदन पत्र खुलकर आएगा, जिसमें आपको सही जानकारी देनी होगी और अपनी आईडी की जानकारी भी भरनी होगी |
  • इसके बाद आपको इसके लिए फीस का भुगतान करना होगा, जो पहले 25 हजार रूपये थी | परन्तु सरकार द्वारा इसमें संशोधन कर दिया  गया है, जो अब  2 हजार कर दी गयी है |
  • पहले रिनुवल कराने के लिए व्यक्ति को 5 हजार रूपये  देने होते थे  लेकिन, वर्तमान समय में यह फीस 2 हजार रूपये हो गई है|
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरने के साथ-साथ फीस भुगतान कर दे, इसके बाद आपके फोन पर एक ट्रांजेक्शन आईडी  भेज दी जाएगी|
  • यदि आपकी आवेदन  प्रक्रिया संपन्न हो जाएगी,  तो कुछ समय पश्चात् आपको एक रजिस्ट्रेशन नंबर भेजा  जायेगा, जिसका आप एक प्रिंट भी  निकलवा सकते है |
  • रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया सम्पन्न हो जाने के बाद आप प्रॉपर्टी डीलर का व्यापार कर सकते है |

प्रॉपर्टी डीलर की कमाई 

एक प्रॉपर्टी डीलर  के कमाई करने के विभिन्न रास्ते होते हैं क्योंकि, वह  किराये पर दिलाकर कमीशन प्राप्त कर सकता है , जमीन सेल कराकर कमीशन प्राप्त कर सकता  है, दुकान सेल या किराये पर दिलाकर कमीशन  का हकदार हो जाता है | जिस प्रॉपर्टी डीलर को इस व्यवसाय के बारे में सारी जानकारी होती है, तो वह इस फील्ड  मे  बहुत ज्यादा कमाई करके एक बड़ा आदमी बना जा सकता है |

ये भी पढ़े: इंश्योरेंस एजेंट (INSURANCE AGENT) कैसे बनें

यहाँ पर आपको प्रॉपर्टी डीलर बनने के विषय में सारी जानकारी उपलब्ध कराई गई है |   यदि आपको इससे  सम्बंधित अन्य जानकारी प्राप्त करनी है तो आप  www.usidcl.com पर विजिट कर सकते है | इसके साथ ही यदि आप दी गयी जानकारी के विषय में अपने विचार या सुझाव अथवा प्रश्न पूछना चाहते है, तो कमेंट बॉक्स के माध्यम से संपर्क कर सकते है | हम आपके प्रश्नो और सुझावों का इन्तजार कर रहें है |

ये भी पढ़े:  बैंक मैनेजर (BANK MANAGER) कैसे बने

ये भी पढ़े: सीआईडी (CID) ऑफिसर कैसे बने

ये भी पढ़े: मैथ्स (MATHS) में इंटेलिजेंट कैसे बने